मोदी का डंडा, बदल रहा है भारतीय फिल्म इंडस्ट्री का फंडा

देश के प्रधानमंत्री पद पर नरेंद्र मोदी के आने से भारतीय फिल्म इंडस्ट्री में राष्ट्रवादी शक्ति का प्रभाव बढ़ा है भारतीय फिल्म इंडस्ट्री में एक समय ऐसा भी था जब खान ब्रदर्स का बोल वाला था सुपरस्टार की रेस में शाहरुख खान, सलमान खान, आमिर खान और सैफ अली खान के नाम सबसे आगे होने की चर्चा रोज मीडिया में देखी जाती थी

साल भर की फिल्मों की लिस्ट में भी इन्हीं खान ब्रदर्स का ही फिल्मों का बोल वाला देखा जाता था लेकिन देश में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार आने के बाद से भारतीय फिल्म उद्योग में नए बदलाव देखे जा रहे हैं पहले जहां फिल्म का विषय मनमाना रहता था.जिसमें देशहित की बातें कम ही देखी जाती थी और भारतीय संस्कार कैसे खत्म हो इन्हीं विषयों पर फिल्म ज्यादा बनती थी

वहि आज टॉयलेट पैडमैन उड़ी ऐसी फिल्मों के नाम है जो देश हित में और लोगों में राष्ट्रभक्ति पैदा करने के विषय पर बनी फिल्म मानी जा सकती है. एक समय था जब फिल्म उद्योग पर पाकिस्तान में बैठे डॉन का वर्चस्व था इन्हीं के इशारों पर पहले फिल्म निर्माताओं को फंडिंग, फिल्म में मुख्य कलाकार कौन, अभिनेत्री कौन, विषय क्या ? इन सब का निर्देश विदेश सेआता था.

और इसी का उदाहरण है अमीर खान अभिनीत फिल्म फना है जिसमें आतंकवादी बने अभिनेता आमिर खान द्वारा अपने आतंकी आकाओं के लिए घर द्वार त्याग कर आतंकवाद के रास्ते पर चले जाने की कहानी विस्तार से बताइए गई है ऐसे विषय से देश के युवाओं में क्या प्रभाव होगा इसकी शायद निर्माता-निर्देशक के साथ अभिनेता आमिर खान को अंदाजा नहीं था या फिर जानबूझकर ऐसी फिल्में विदेशी आकाओं के निर्देश पर बनाई गयी.

आज भारतीय फिल्म उद्योग पर इन विदेशी आकाओं का वर्चस्व बिल्कुल खत्म हो गया है अब फिल्म अभिनेता ,अक्षय कुमार अजय देवगन, रणबीर कपूर, रणवीर सिंह जैसे अभिनेता देश हित के विषयों पर लगातार फिल्म बना रहे है

पहले जहां अपने सुपर स्टार होने का फायदा लेते हुए शाहरुख खान, सलमान खान और आमिर खान देश के प्रतिष्ठा को धूमिल करने वाले बयानों देने में नहीं हिचकते थे वहीं ये लोग केंद्र के साथ महाराष्ट्र में भाजपा सरकार आ जाने के बाद विवादित बयान देना तो दूर अब ये लोग सरकार की विभिन्न योजनाओं में अपना सहभाग दे रहे हैं

गत १४ फरवरी को पुलवामा में हुए आतंकी हमले के विरोध में फिल्म अभिनेता अजय देवगन ने अपनी नई प्रदर्शित होने वाली फिल्म “टोटल धमाल” पाकिस्तान में नहीं प्रदर्शित करने की घोषणा कर दी है देश हित को ध्यान में रखकर अपना नुकसान करने वाले अभिनेता अजय देवगन की इस घोषणा की सराहना पूरा देश कर रहा है इसी तर्ज पर अनेक निर्माता निर्देशक पाकिस्तान के किसी भी कलाकार को भारतीय फिल्मों में नहीं लेने की तैयारी में है

Please follow and like us:
error

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error

Enjoy this blog? Please spread the word :)

Facebook
Twitter
YouTube
Follow by Email