मोहित भारतीय के वर्सोवा आने से राजनीतिक हलचल तेज, स्थानिय विधायक भारती लवेकर कांग्रेस का टिकट लेने की जुगत में!

शीतला प्रसाद सरोज

मुंबई। मुंबई की वर्सोवा विधान सभा सीट चुनाव से पहले ही चर्चा में आ गई है। इस विधान सभा से जनप्रतिनिधि बनने के लिए कई नेताओं में ज़ोर आज़माइश शुरू हो गई है। ख़ासकर जब से मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस के खास और भारतीय जनता युवा मोर्चा, मुंबई के अध्यक्ष मोहित भारतीय इस विधान सभा में सक्रिय हुए हैं, तब से यहां की मौजूदा विधायक भारती लवेकर ही नहीं, बल्कि इस सीट से विधान सभा में पहुंचने का इरादा रखने वाले भाजपा और कांग्रेस के नेता बहुत अधिक बेचैन दिख रहे हैं।

नवीनतम सूचना यह है कि भाजयुमो के एक विस्तारक से मारपीट करने की घटना के बाद जिस तरह भारती लवेकर समर्थकों से भरी भाजयुमो वर्सोवा विधान सभा की मंडल और वार्ड की टीम को निलंबित किया गया, उससे लवेकर को भी लगने लगा है कि भाजपा में हवा का रुख उनके एकदम ख़िलाफ़ जा रहा है। इस घटनाक्रम से इस बात की भी पक्की संभावना बन गई है कि लवेकर को इस बार भाजपा का टिकट नहीं मिलेगा।

दरअसल, भाजयुमो, मुंबई के एक विस्तारक अजय गोसाई को पिछले दिनों भाजयुमो वर्सोवा के सचिव कुमार माने ने उस समय पीट दिया था, जब विस्तारक भाजपा सदस्यता अभियान का संचालन कर रहे था। भाजयुमो मुंबई के महासचिव तेजिंदर सिंह तिवाना ने शिकायत की और आरोप लगाया कि भाजयुमो वर्सोवा मंडल के अध्यक्ष सिद्धेश शिंदे और महामंत्री प्रेम गुप्ता समेत कई पदाधिकारी पार्टी विरोधी गतिविधियों में लिप्त हैं और पार्टी के सदस्यता अभियान को असफल करने पर तुले हुए हैं।

ये भी पढ़े –  भाजयुमो वर्सोवा की मंडल व वार्ड की पूरी टीम निलंबित, विस्तारक से मारपीट का मामला।

इसका त्वरित संज्ञान लेते हुए भाजपा मुंबई अध्यक्ष मंगलप्रभात लोढ़ा के निर्देश पर भाजपा मुंबई उत्तर-पश्चिम के अध्यक्ष विधायक अमित साटम ने भाजयुमो वर्सोवा की मंडल व वार्ड की पूरी टीम को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया। इस फ़ैसले के बाद वर्सोवा की मौजूदा विधायक भारती लवेकर के खेमे में मायूसी छा गई, क्योंकि निलंबित लोग उनके ही वफ़ादार रहे थे। इतना ही नहीं, लवेकर के भतीजे नगरसेवक योगीराज दाभाडकर भाजयुमो, मुंबई के पदाधिकारी के बारे में भी अशोभनीय टिप्पणी कर चुकें हैं। यह क़दम भी लवेकर के ही ख़िलाफ़ गया है।

जनचर्चा है कि भाजपा में हवा विपरीत भांपकर भारती लवेकर कांग्रेस या महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना का टिकट लेने की कोशिश कर रही हैं। अति भरोसेमंद सूत्रों के अनुसार हाल ही में लवेकर पूर्व मुंबई कांग्रेस अध्यक्ष संजय निरुपम से मिलकर वर्सोवा से कांग्रेस टिकट पर चुनाव लड़ने की इच्छा जताई थी, लेकिन संजय निरुपम ख़ुद अपनी पत्नी गीता निरुपम के लिए टिकट लेने के जुगत में हैं।

चूंकि पूर्व विधायक बलदेव खोसा, अब्दुल अहद ख़ान, भावना जैन, चंगेज़ मुल्तानी, रईस लश्करिया, अखिलेश यादव, इस्तियाक जागीरदार, महेश मलिक, जावेद सर्राफ, गुरुप्रीति चड्ढा, मोहसिन हैदर, परमजीत सिंह गुम्बर, निशान सिद्दीकी, सिद्धार्थ खोसा पहले से ही वर्सोवा से कांग्रेस टिकट के लिए दावा कर रहे हैं। इसीलिए लवेकर की दाल नहीं गलने वाली, सो वह मनसे का टिकट लेने की भी कोशिश कर रही हैं। हालांकि मनसे के टिकट पर दावा मनीष धुरी का है। लिहाज़ा, वहां भी उन्हें मायूसी ही मिलने वाली है।

दरअसल, भारती लवेकर की स्थिति तब कमज़ोर हो गई थी, जब उनके गॉडफ़ादर और शिवसंग्राम पार्टी के नेता विनायक मेटे ने लोकसभा चुनाव में बीड़ संसदीय क्षेत्र में भाजपा सांसद प्रीतम मुंडे के ख़िलाफ़ एनसीपी के बजरंग सोनावाने का समर्थन किया था। इससे भाजपा नेतृत्व इस मराठा नेता से ख़ासा नाराज़ हो गया, क्योंकि मेटे भाजपा के सहयोग से विधान परिषद सदस्य चुने गए थे। उसी समय चर्चा शुरू हो गई कि भारती लवेकर को इस बार भाजपा का टिकट नहीं दिया जाएगा।

जहां तक वर्सोवा में भावी जनप्रतिनिधि की बात है तो इस साल 5 जून को विश्व पर्यावरण दिवस पर जब मोहित भारतीय ने ‘वॉक फ़ॉर मैंग्रोव्ज़’ मुहिम शुरू की, तब किसी ने इसका बहुत ज़्यादा नोटिस नहीं लिया, क्योंकि 2016 में भाजयुमो मुंबई का अध्यक्ष बनने के बाद से ही मोहित भारतीय बहुत सक्रिय रहे हैं और अकसर ही कोई कार्यक्रम या आंदोलन करते देखे जाते हैं। कहा जाता है कि कर्नाटक के विधायकों को मुंबई में संभालने की ज़िम्मेदारी पार्टी ने मोहित भारतीय को दी थी। कर्नाटक में राजीतिक सरगर्मी के समय मोहित भारतीय भी ख़ासे चर्चा में थे।

लोकसभा चुनाव से पहले मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस ने मोहित भारतीय को मुंबई के सोमैया ग्राउंड में युवा महासम्मेलन का आयोजन करने की जिम्मेदारी दी थी। वह कार्यक्रम इतना सफल रहा कि मुख्यमंत्री ने लोकसभा चुनाव में राज्य भर में अपनी चुनावी सभाओं की तैयारी का प्रभारी मोहित भारतीय को बना दिया। भाजयुमो मुंबई की टीम ने शानदार कार्यक्रम का आयोजन किया और मुख्यमंत्री की 72 सभाएं की गई, सभी में भारी भीड़ जुटी।

अब मोहित को मुख्यमंत्री ने अपनी महाजनादेश यात्रा का प्रभारी बनाया है।महाजनादेश यात्रा को भारी सफलता मिल रही थी, जहां जहां से मुख्यमंत्री का रथ गुजर रहा था, उनका स्वागत करने के लिए सड़क को दोनों ओर भारी भीड़ खड़ी रहती थी। बहरहाल, कोल्हापुर, सांगली और सातारा में बाढ़ आने से महाजनादेश यात्रा तीन दिन पहले रोक दी गई। अब उसका दूसरा चरण 21 अगस्त से नंदूरबार से शुरू हो रहा है। जबकि तीसरा चरण 13 सितंबर से प्रस्तावित है।

बहरहाल, मोहित भारतीय के ‘वॉक फॉर मैंग्रोव्ज’ कार्यक्रम के बाद मुंबई के एक प्रमुख अंग्रेजी अख़बार में समाचार प्रकाशित हुआ। समाचार में वर्सोवा से भाजपा की ओर से चार उम्मीदवारों का जिक्र किया गया, उनमें पहला नाम मोहित भारतीय का ही था। हालांकि उस रिपोर्ट में टिकट के दावेदारों में भाजपा के बुजुर्ग नेता रघुनाथ कुलकर्णी के अलावा भाजपा के सचिव संजय पांडेय के भी नाम का जिक्र था। उस समाचार में भी भारती लवेकर को टिकट मिलना संदिग्ध बताया गया था।

ये भी पढ़े – वर्सोवा में मोहित भारतीय की अगुवाई में विशाल बाइक रैली

इस साल जून में जब भाजयुमो के सात विस्तारक वर्सोवा विधान सभा में घूमने लगे और स्थानीय लोगों को भाजपा से जोड़ने लगे, तब भारती लवेकर के कान खड़े हो गए। वह भी अचानक से सक्रिय हो गईं। उनके करीबी (जो पिछला मनपा चुनाव लड़ चुके हैं ) भाजयुमो विस्तारकों को धमकाने लगे। चूंकि भाजयुमो के विस्तारक भाजपा का ही जनाधार मजबूत करने का काम रहे थे, लिहाजा, लवेकर के पास बोलने के लिए ज्यादा कुछ नहीं था। वह अंदर ही अंदर विस्तारकों को तोड़ना चाहती थीं, लेकिन सफल नहीं हुईं।

इस साल जून-जुलाई में मोहित भारतीय फाउंडेशन के वर्सोवा में कार्यालय खुल गए और 18 साल की उम्र पार करने के बाद भी मतदाता सूची में नाम न होने के कारण लोकसभा चुनाव में वोट न कर पाने वाले युवकों का नाम मतदाता सूची में डलवाने के लिए फॉर्म-6 भरवाने लगे। इसके अलावा जिन लोगों का नाम मतदाता सूची में नहीं है उनकी भी मदद करने लगे। मोहित भारतीय फाउंडेशन के वॉलंटियर लोगों के आधार कार्ड को स्मार्ट कार्ड में बदलने का काम भी कर रहे हैं। जिसे बहुत ज़बरदस्त रिस्पॉन्स मिल रहा है। वर्सोवा में मोहित भारतीय फाउंडेशन इतना जनहित का कार्य कर रहा है कि लोग मान कर चल रहे हैं कि आगामी विधान सभा चुनाव में भाजपा की ओर से  मोहित भारतीय ही चुनाव मैदान में उतरेंगे।

वर्सोवा में भाजपा के साथ साथ राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ, विश्व हिदू परिषद और बजरंग दल का भी मज़बूत संगठन है। भारती लवेकर से भाजपा के लोग पहले से ही नाराज़ हैं। उन्होंने पुराने भाजपाई घनश्याम मौर्या का झुणका-भाकर केंद्र पर बीएमसी की बुलडोजर चलवा दिया था। इसीलिए नाराज भाजपा संगठन के लोग अब धीरे-धीरे मोहित भारतीय के खेमे में जाने लगे हैं।

भाजपा वार्ड- 61 के अध्यक्ष धनश्याम यादव और लवेकर के क़रीबी रहे महेंद्र गोसाईं जैसे लोग भी मोहित भारतीय फाउंडेशन के दफ्तर में देखे जा रहे हैं। आई तुलजा भवानी चौक लोखंडवाला पर मोहित भारतीय फाउंडेशन के कार्यालय में देर रात तक चहल-पहल देखी जा सकती है। मोहित भारतीय फाउंडेशन की ओर से लोगों के बीच संवाद कायम करने के लिए बाटी-चोखा का भी कार्यक्रम शुरू किया गया है। पहला बाटी चोखा बेहराम पाड़ा में स्वतंत्रता दिवस की पूर्व संध्या पर हुआ था।

इस बीच वर्सोवा विधान सभा क्षेत्र में बृहस्पतिवार को हुई बहुत लंबी बाइक रैली का नेतृत्व करके मोहित भारतीय औपचारिक रूप से यह ऐलान कर दिया है कि उनका कार्यक्षेत्र वर्सोवा विधान सभा होने जा रहा है। इस बाइक रैली में करीब 14 सौ बाइक सवार युवक युवतियों ने हिस्सा लिया। करीब तीन घंटे तक सभी बाइकर्स मोहित भारतीय के नेतृत्व में वर्सोवा विधान सभा की हर छोटी बड़ी गली और सड़क पर ‘मोहित तुम आगे बढ़ो हम तुम्हारे साथ हैं’, ‘हमारा नेता कैसा हो, मोहित भैया जैसा हो।’ के नारे लगाते रहे।

जब से जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 और 35 ए को हटाया गया है। पूरे देश की तरह वर्सोवा में भाजपा कार्यकर्ताओं में भारी उत्साह है। इसीलिए 15 अगस्त को जब सुबह दस बजे बाइक रैली शुरू हुई तो ढेर सारे युवक युवती स्वेच्छा से अपनी-अपनी बाइक लेकर रैली में शामिल हो गए।

कुल मिलाकर कहा जा सकता है कि आगामी विधान सभा चुनाव में वर्सोवा राज्य का सबसे चर्चित विधान सभा बनने की ओर अग्रसर है।

Please follow and like us:
error

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error

Enjoy this blog? Please spread the word :)

Facebook
Twitter
YouTube
Follow by Email