कर्फ्यू के बावजूद खुले होटल को बंद करवाने गई पुलिस पर मालिक और उसके बेटों ने उबलती चाय फेंक दी

(ABI News)

भोपाल। शहर में लगे कर्फ्यू के बावजूद खुले होटल को बंद करवाने गई पुलिस पर मालिक और उसके बेटों ने उबलती हुई चाय फेंक दी। मामला यहीं नहीं थमा बल्कि होटल मालिक और उसके परिवारजनों ने पुलिस पर पथराव भी कर दिया। हमले की इस वारदात में एक एएसआई समेत तीन पुलिसकर्मी घायल हुए हैं।

दरअसल मध्य प्रदेश के काजी कैंप इलाके में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए शनिवार की रात नाइट कर्फ्यू लगाया गया था। पुलिस व्यवस्था बनाने के लिए सड़कों पर गश्त करती हुई घूम रही थी। हनुमानगंज के थाना प्रभारी महेंद्र सिंह ठाकुर ने बताया कि इस दौरान पुलिस को जानकारी मिली थी कि जहीर खान ने अपना होटल अल मदीना खोल रखा है और वहां पर आने वाले ग्राहकों को चाय बनाकर परोसी जा रही है।

मामले की जानकारी मिलते ही पुलिस लगभग 9.30 बजे जहीर खान के होटल पर पहुंची और उससे दुकान बंद करने को कहा। उस समय तो उसने अपनी दुकान का शटर गिरा लिया। बाद में लगभग 10.30 बजे पुलिस को सूचना मिली कि जहीर खान फिर से अपनी दुकान को खोल खोलकर वहां आने वाले ग्राहकों को चाय परोस रहा है। होटल के ऊपर ही जहीर खान का परिवार रहता है। सूचना मिलते ही एएसआई अरविंद जाट, हवलदार लोकेश जोशी और सिपाही सुजान मीणा दोबारा से मौके पर पहुंचे तो उन्होंने दुकान का शटर खुला हुआ पाया। उस समय अंदर लगभग आठ दस ग्राहक बैठकर चाय पी रहे थे।

जैसे ही एएसआई अरविंद जाट ने जहीर खान को होटल बंद करने के लिए कहा तो उसने उनके ऊपर चाय फेंक दी और गाली गलौज करने लगा। आरोप है कि जहीर के बेटे शावेज ने उबलती हुई चाय एएसआई अरविंद जाट पर फेंक दी। जिससे उनका दाया हाथ बुरी तरह से झुलस गया। इसी बीच जहीर सावेज, सलमान और दुकान पर बैठे ग्राहकों ने पुलिस के साथ धक्का-मुक्की करनी शुरू कर दी और पुलिस को होटल से बाहर निकालकर शटर गिरा दिया। जहीर के परिवार की महिलाओं ने होटल के ऊपर से पुलिसकर्मियों पर पथराव भी किया।

Please follow and like us:
error

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error

Enjoy this blog? Please spread the word :)

Facebook
Twitter
YouTube
Follow by Email